राज्य

शहीद पिंटू की बेटी के उच्च शिक्षा के लिए रजनीकांत पाठक ने दिए 1 लाख रुपये

बेगूसराय: उत्तरी कश्मीर के बावगुंड और हंदवाड़ा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में बखरी थाना क्षेत्र के बगरस ध्यान चक्की गांव निवासी सीआरपीएफ इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह शहीद हो गए। इनकी शहादत की खबर सुनते ही आसपास के गांवों में मातम छा गयी थी और तभी एकता शक्ति फाउन्डेशन के उपाध्यक्ष रजनीकान्त पाठक और उनके पिता समाजवादी क्रांति के अग्रणी विचारक बखरी नगर पंचायत के प्रथम उपमुख्य पार्षद स दिनेश पाठक जी अपने आवास बखरी शकरपुरा पर 58वें राम जन्मोत्सव की तैयारी में थे। परन्तु इस मार्मिक शहादत के सम्मान में इन पिता पुत्र ने हर सांस्कृतिक आयोजन को स्थगित कर दिया था।

इसी दिन 4 मार्च को यह घोषणा की गयी कि एकता शक्ति फाउन्डेशन के सहयोग से आयोजित राम जन्मोत्सव की राशि शहीद पिन्टु सिंह की 5 वर्षीय लाडली बेटी के शिक्षा के लिए शहीद परिवार को दी जायेगी। जिसमें समाजवादी दिनेश पाठक जी ने भी नगर उपमुख्य पार्षद के रूप में मिली मानदेय से 20000 हजार रूपये देने की इच्छा व्यक्त की। शनिवार 27 जुलाई को बखरी के सांस्कृतिक धरोहर ‘श्री विश्व बन्धु पुस्तकालय’ के 63 वें वार्षिकोत्सव के अवसर पर शहीद पिन्टु सिंह के परिवार को श्रीराम जानकी फिल्म्स के मुख्य कार्यकारी उपाध्यक्ष रजनीकांत पाठक ने एक लाख की धनराशि शहीद की बेटी के उच्च शिक्षा के लिए प्रदान की।

बता दें कि 3  मार्च को शहीद का शव गांव पहुंचते ही जन सैलाब उमड़ पड़ा था। लोगों ने भारत जिंदाबाद और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए थे । नम आंखों से लोगों ने शहीद को अंतिम विदाई दी। पिंटू कुमार सिंह की आखिरी यात्रा में लोगों की भारी भीड़ उमड़ी थी। उनकी पत्नी लगातार रो रही थीं. हालांकि, उन्होंने खुद को संभालते हुए अपनी बेटी से कहा- पापा को जय हिंद बोल देना।  शहीद जवान की 4 साल की बेटी पीहू ने उन्हें मुखाग्नि दी थी।

Begusarai Bihar news in hindi: Last rites of Martyr crpf jawan Pintu Kumar singh in Begusarai district

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com