देश मध्यप्रदेश राज्य

मुश्किल में बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर, हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस

डेस्क: भारतीय जनता पार्टी की फायर ब्रांड नेता और मध्यप्रदेश के भोपाल से सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। जबलपुर हाई कोर्ट ने एक चुनाव याचिका पर सुनवाई करते हुए साध्वी प्रज्ञा सिंह के खिलाफ नोटिस जारी किया है और 4 हफ्तों में जवाब मांगा है।

याचिका में भोपाल लोकसभा सीट से साध्वी प्रज्ञा सिंह का निर्वाचन शून्य घोषित करने की मांग की गई है। भोपाल के एक पत्रकार राजेश दीक्षित ने ये चुनाव याचिका एक मतदाता की हैसियत से दायर की। याचिका में कहा गया है कि साध्वी प्रज्ञा सिंह ने अपने चुनाव प्रचार में धर्म के आधार पर वोट मांगे थे इसलिए उनका निर्वाचन शून्य घोषित किया जाना चाहिए। याचिका में कहा गया है कि साध्वी प्रज्ञा सिंह ने अपने पूरे चुनाव प्रचार के दौरान सांप्रदायिक और धार्मिक भाषण दिए जबकि अपने प्रतिद्वंदी कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह पर भगवा आतंकवाद पर बयान देने के झूठे आरोप लगाए।

याचिका मे कहा गया है कि लोकप्रतिनिधित्व कानून की धारा 123 के मुताबिक कोई भी प्रत्याशी धार्मिक आधार पर वोट नहीं मांग सकता लिहाजा साध्वी प्रज्ञा सिंह का निर्वाचन भी रद्द किया जाना चाहिए। फिलहाल हाईकोर्ट ने इस चुनाव याचिका पर साध्वी प्रज्ञा सिंह के खिलाफ नोटिस जारी कर उनका जवाब मांगा है। मामले पर अगली सुनवाई 9 सितंबर को की जाएगी।

बता दें कि लोकसभा चुनाव-2019 में मालेगांव बम धमाकों की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को 3 लाख 64 हजार 822 वोटों से हराकर करारी मात दी थी। भोपाल से जीत हासिल करने के बाद वह पहली बार सांसद बनीं।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com