खेल देश

क्रिकेटर इरफान पठान समेत 100 क्रिकेटरों ने कश्मीर छोड़ा, कहा- मेरा मन और दिल दोनों भारतीय सेना के साथ

डेस्क: जम्मू एंड कश्मीर में एडवाइजरी जारी होने के बाद से न सिर्फ टूरिस्ट और तीर्थ यात्रियों को वापस घर भेजा जा रहा है, बल्कि बाहरी खिलाड़ियाें को भी घाटी छोड़ने के लिए कह दिया गया है। जम्मू-कश्मीर क्रिकेट टीम के मेंटॉर और कोच इरफान पठान को भी जल्द से जल्द कैंप छोड़ने के लिए कहा गया है। जम्मू कश्मीर टीम के मेंटर पठान, कोच मिलाप मेवड़ा और ट्रेनर सुदर्शन वीपी के साथ वो सभी चयनकर्ता जो घाटी के नहीं हैं उन्हें रविवार को शहर से चले जाने को कहा गया है।

वापस आने के बाद उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है, ‘मेरा मन और दिल दोनों अभी भी भारतीय सेना और भारतीय कश्मीरी भाइयों और बहनों के साथ कश्मीर में है …’

मीडिया रिपोर्ट्स में पठान के हवाले से कहा, ‘हमारे कैंप को बंद कर दिया गया और क्रिकेटरों को उनके घर भेज दिया गया। कैंप 14 जून से शुरू हुआ था जो 14 जुलाई तक चला। 10 दिन के ब्रेक के बाद 25 जुलाई से फिर कैंप शुरू हुआ। शनिवार को करीब 100 क्रिकेटरों को उनके घर भेजा दिया गया।’

बता दें कि 34 साल के पठान को पिछले साल जुलाई में जम्मू-कश्मीर क्रिकेट टीम का मेंटॉर-कोच नियुक्त किया गया था। उन्होंने बताया कि सपॉर्ट स्टाफ को भी राज्य को खाली करने के लिए कहा गया है।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com