देश बिहार राज्य

महाराष्ट्र: नीतीश सरकार की 14 साल की उपलब्धि ! एनसीपी नेता धनंजय मुंडे बिहार को लेकर कही ऐसी बातें

महाराष्ट्र में बिहारियों को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी कोई नया मामला नहीं है। अक्सर कोई न कोई नेता स्थानीय राजनीति में पकड़ बनाने के उदेश्य से उत्तर भारत खासकर यूपी-बिहार के लिए उटपटांग बयान देने लगते हैं। ताजा मामले में एनसीपी नेता और विधान परिषद में विपक्ष के नेता धनंजय मुंडे ने बिहार को लेकर टिप्पणी की है।

बीड से विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे एनसीपी नेता मुंडे ने कहा कि बीड जिले को बीजेपी ने ‘मिनी बिहार’ बना दिया है। ऐसे लोगों को सत्ता से उखाड़ फेंकने की मांग धनंजय ने की। उन्होंने बीड जिले को मिनी बिहार बताते हुए आरोप लगाया कि बीजेपी सरकार ने जिले को बहुत पीछे ला दिया। मुंडे ने ट्वीट किया कि ‘बेरोजगारी, कन्या भ्रूण हत्या, कुपोषण और आपराधिक गतिविधियां बढ़ी है। हमारे बीड जिले की पहचान मिनी बिहार में बदल गई है।’ एनसीपी नेता मुंडे ने कहा कि समाज की विकट परिस्थितियों को छिपाने वाले कपटी नेताओं को सत्ता से बाहर करना चाहिए।

बीजेपी के नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी राज्य की महिला बाल कल्याण मंत्री पंकजा मुंडे और विधान परिषद में विपक्ष के नेता धनंजय मुंडे तनातनी जगजाहिर हैं। बता दें कि दोनों चचेरे भाई-बहन हैं। धनंजय मुंडे ने एक वीडियो क्लिप साझा कर आरोप लगाया कि बीजेपी के शासन में बीड में कुछ किसानों ने खुदकुशी कर ली और जिले की कुछ लड़कियां छेड़खानी से तंग आकर आत्महत्या कर रही हैं। उन्होंने वीडियो क्लिप के जरिए आरोप लगाया कि बीड में भ्रष्टाचार बेलगाम है और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में राज्य का गृह विभाग जिले में ‘निष्प्रभावी’ साबित हुआ

जिन चीजों को लेकर एनसीपी नेता ने बिड की तुलना बिहार से की है। उसके लिए कहीं न कहीं बिहार की सरकार ही जिम्मेवार है। जो अपने प्रदेश में न रोजगार अवसर बढ़ा पा रही है, न कुपोषण  मिटा पा रही है, न ही आपराधिक गतिविधियों को रोक पा रही है।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com