देश राजनीती विदेश

बड़ी खबर: अमेरिका ने पाकिस्तान से कहा- ‘गीदड़भभकी’ के बदले आतंकियों पर कार्रवाई करो

डेस्क: सोमवार को भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों- जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया, जिससे संबंधित संकल्प को संसद के दोनों सदनों में पास हो हो गया है। मोदी सरकार के इस फैसले के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। इस बीच अमेरिका के दो डेमोक्रेटिक सांसदों ने पाकिस्‍तान को फटकार लगाई है। उन्‍होंने सख्‍त हिदायत देते हुए कहा कि भारत के खिलाफ कोई भी आक्रामक कदम उठाने के बजाय पाकिस्‍तान अपनी जमीन पर मौजूद आतंकी संगठनों के खिलाफ ठोस कदम उठाए।

सीनेटर रॉबर्ट मेनेंडेज और कांग्रेस सदस्‍य एलियट लांस एंजेल) ने संयुक्‍त बयान जारी कर कहा है, बेहतर होगा कि पाकिस्‍तान भारत के खिलाफ कोई भी आक्रामक कार्रवाई करने से बचे। वहीं, उन्‍होंने जम्‍मू-कश्‍मीर में आम लोगों पर लगाई गई पाबंदियों पर भी चिंता जाहिर की।

उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान जवाबी कार्रवाई से बचने के साथ ही नियंत्रण रेखा पर घुसपैठियों की मदद भी न करे। वहीं, जम्‍मू-कश्‍मीर में लोगों को हिरासत में लेने और लगाई गई पाबंदियों पर चिंता जताते हुए कहा कि यह भारत के लिए शानदार मौका है। वह दुनिया को सभी नागरिकों के अधिकारों की समान रूप से रक्षा की अहमियत दिखा सकता है। साथ ही बता सकता है कि विधानसभा की स्‍वतंत्रता, हर नागरिक की सूचना तक पहुंच और कानून के तहत सभी नागरिकों की समान रूप से सुरक्षा कैसे की जाती है। मेनेंडेज अमेरिकी सीनेट में विदेश संबंध समिति के सदस्‍य हैं, जबकि एंजेल विदेश मामलों की समिति के अध्‍यक्ष हैं।

बता दें कि पाकिस्‍तान ने बुधवार को भारतीय उच्‍चायुक्‍त अजय बिसारिया को भारत लौटने का फरमान सुना दिया। साथ ही भारत के साथ सभी व्यपारिक संबंध तोड़ने का ऐलान किया। साथ ही जम्‍मू-कश्‍मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्‍छेद-370 को हटाने के फैसले को एकपक्षीय और अवैध करार देते हुए मामले को संयुक्त राष्ट्र में ले जाने कही थी। वहीं आज गुरुवार को समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा को निलंबित कर दिया है।

पाकिस्तान के रेल मंत्री राशिद ने मीडिया से कहा, ‘हमने समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा को निलंबित करने का निर्णय किया है। जबतक मैं रेल मंत्री रहूंगा, समझौता एक्सप्रेस ट्रेन सेवा नहीं चलेगी।’ मंत्री ने कहा कि समझौता के उन डिब्बों का इस्तेमाल ईद के मौके पर यात्रियों की आवाजाही के लिए किया जाएगा।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com