देश राजनीती

क्या मोदी-शाह की सरकार में मीडिया से बात करना गुनाह है ?

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कश्मीर में विपक्षी नेताओं की गिरफ्तारी को लेकर शनिवार को पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से तीखे सवाल किए हैं। शुक्रवार को प्रदेश कांग्रेस इकाई को संवाददाता सम्मेलन संबोधित करने से रोके जाने के बाद प्रियंका ने पूछा कि क्या मीडिया से बात करना गुनाह है।

Image result for प्रियंका गांधी

प्रियंका ने ट्वीट किया, ‘किस आधार पर जम्मू कश्मीर में कांग्रेस नेताओं को गिर’फ्तार किया गया? क्या मीडिया से बात करना गुनाह है? जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री, जो देश के संविधान का सम्मान और उसका पालन करते हैं, उन्हें हिरासत में 15 दिन हो गए हैं।’ उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा है, ‘यहां तक कि उनके परिवार वालों को भी उनसे बात करने की इजाजत नहीं है। क्या मोदी-शाह सरकार यह मानती है कि देश में अब भी लोकतंत्र है?’

इससे पहले शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर और वरिष्ठ कांग्रेस नेता रवींद्र शर्मा की गिर’फ्तारी की खबर आई थी। इसके बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया था, ‘मैं जम्मू कश्मीर कांग्रेस प्रमुख गुलाम अहमद मीर और प्रवक्ता रवींद्र शर्मा को जम्मू में आज गिर’फ्तार किए जाने की कड़ी निंदा करता हूं। एक राष्ट्रीय राजनीतिक दल के खिलाफ बेवजह के कार्रवाई से सरकार ने लोकतंत्र पर एक और हमला किया है। यह पागलपन कब खत्म होगा।’

इससे पहले वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने पार्टी के जम्मू कश्मीर प्रमुख गुलाम अहमद मीर को हि’रासत में लिए जाने की आलोचना करते हुए शनिवार को इसे ‘बिल्कुल गैरकानूनी’ करार दिया। उन्होंने उम्मीद जताई कि अदालतें इस मामले का संज्ञान लेंगी

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com