Breaking News देश

विंग कमांडर एस धामी देश की हर बेटी के लिए बनीं प्रेरणास्त्रोत, IAF की फ्लाइंग यूनिट की पहली महिला फ्लाइट कमांडर बनकर रचा इतिहास

डेस्क: भारतीय वायुसेना की विंग कमांडर एस धामी ने देश में फ्लाइंग यूनिट की पहली महिला फ्लाइट कमांडर बनने का कीर्तिमान बनाया है। वह देश की पहली ऐसी महिला वायुसेना अधिकारी हैं जिन्हें यह जिम्मेदारी दी गई है। भारतीय वायु सेना की विंग कमांडर एस धामी ने देश की पहली महिला अधिकारी बन देश की हर बेटी के लिए प्रेरणास्त्रोत बन गई है।

विंग कमांडर एस धामी हिंडन एयरबेस पर चेतक हेलिकॉप्टर की एक यूनिट की फ्लाइट कमांडर का दायित्व संभालेंगी। बता दें कि वायुसेना की कमांड यूनिट में फ्लाइट कमांडर का पद दूसरे स्थान का पद है।

पंजाब के लुधियाना में पली-बढ़ी धामी हाई स्कूल के दिनों से ही पायलट बनना चाहती थीं। करियर में ऊंचाइयां छू रहीं धामी एक नौ साल के बच्चे की मां हैं। 15 साल के अपने करियर में एस धामी ने चेतक और चीता हेलिकॉप्टर उड़ाती रही हैं। विंग कमांडर धामी चेतक और चीता हेलीकॉप्टरों के लिए भारतीय वायुसेना की पहली महिला योग्य फ्लाइंग इंस्ट्रक्टर भी हैं।

बता दें कि भारतीय सशस्त्र बलों में महिलाओं ने 26 अगस्त को विंग कमांडर शालिजा धामी की नियुक्ति के साथ एक और मील का पत्थर स्थापित किया जो भारतीय वायु सेना की संचालन इकाई की पहली महिला उड़ान कमांडर बनीं। विंग कमांडर धामी भी IAF की पहली महिला अधिकारी हैं जिन्हें लंबे कार्यकाल के लिए स्थायी कमीशन प्रदान किया जाएगा।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com