खेल देश

मोहम्मद शमी पर निकला अरेस्ट वारंट तो पत्नी बोली- ‘जब आसाराम, राम रहीम नहीं बचे शमी क्या चीज है’

डेस्क: पश्चिम बंगाल की अलीपुर अदालत ने टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और उनके भाई हसीब अहमद के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां द्वारा दायर किए गए घरेलू हिं’सा के मामले में कोर्ट ने उनके खिलाफ अरेस्ट वॉरंट जारी किया है। कोर्ट ने 15 दिन के भीतर उन्हें सरेंडर करने को कहा है। शमी फिलहाल भारतीय क्रिकेट टीम के साथ वेस्टइंडीज के दौरे पर हैं और 4 सितंबर को घर के लिए रवाना होने वाले हैं।

वारंट जारी होने के बाद उनकी पत्नी हसीन जहां ने मंगलवार को कहा है कि जब आसाराम और राम रहीम जैसे लोग कानून की मार से नहीं बच सके तो शमी भी नहीं बच पाएंगे और तेज गेंदबाज को उनके किए की सजा मिलेगी। उन्होंने कहा है ”मैं न्यायिक प्रणाली की आभारी हूं। मैं एक साल से अधिक समय से न्याय के लिए लड़ रहा हूं। आप सभी को पता है कि शमी को लगता है कि वो बड़ा क्रिकेटर है तो बड़ा शक्तिशाली व्यक्ति होगा।”

हसीन जहां ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तारीफ करते हुए कहा कि अगर वे न होतीं तो मैं सुरक्षित न रह पाती। हसीन जहां ने उत्तर प्रदेश प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि अमरोहा पुलिस ने मुझे और मेरी बेटी को प्रताड़ित करने की कोशिश की लेकिन वे इसमें सफल नहीं हुए।

बता दें कि जहां ने पिछले साल सोशल मीडिया पर पति मोहम्मद शमी पर बेवफाई और उन पर और उनके परिवार के सदस्यों पर घरेलू शोषण का आरोप लगाया था। हसीन जहां ने मोहम्मद शमी के लड़कियों से बातचीत के कथित चैट के स्क्रीनशॉट्स शेयर किए थे। मोहम्मद शमी ने सभी आरोपों से इनकार कर दिया था और पत्नी हसीन पर बदनाम करने का आरोप लगाया था।

एक प्रफेशनल मॉडल और कोलकाता नाइट राइडर्स की पूर्व चीयरलीडर, हसीन जहां ने 2014 में शमी से शादी करने के बाद मॉडलिंग छोड़ दी थी। हसीन जहां ने कहा था, ‘मैंने शमी के लिए अपना करियर और सपने छोड़ दिए लेकिन उसने मुझे अकेला छोड़ दिया। मैं दोबारा प्रतिष्ठा और लोकप्रियता हासिल करने के लिए मेहनत कर रही हूं।’

Image result for हसीन जहां

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com