देश विदेश

दो दिवसीय दौरे पर रूस पहुंचे पीएम मोदी, हुआ भव्य स्वागत

डेस्क: ईस्टर्न इकोनॉमिक फोरम की बैठक में भाग लेने के लिए रूस पहुंच चुके हैं। वह भारतीय समयानुसार बुधवार तड़के रूस पहुंचे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का व्लादिवोस्तोक अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर जोरदार स्वागत किया गया। यहां उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इसके बाद मोदी व्लादिवोस्तोक के सुदूर पूर्वी संघीय विश्वविद्यालय (FEFU) पहुंचे, जहां भारतीय प्रवासियों ने उनका शानदार स्वागत किया।

ईईएफ का आयोजन रशियन फार ईस्टर्न के विकास को गति देने और एशिया-प्रशांत क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के विस्तार के उद्देश्य से हर वर्ष किया जाता है। ईईएफ के दौरान, ‘रूस-भारत’ वार्ता को फोरम के व्यावसायिक कार्यक्रम के हिस्से के रूप में योजनाबद्ध किया गया है, जिसमें दोनों देशों के प्रतिनिधि भाग लेंगे। इसके अलावा, भारत यहां देश की आर्थिक, औद्योगिक, पर्यटन और सांस्कृतिक क्षमता को पेश करने के लिए एक राष्ट्रीय रुख प्रस्तुत करेगा।

वह चार और पांच सितंबर की दो दिवसीय यात्रा के दौरान रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मसलों पर बातचीत करेंगे। यात्रा पर रवाना होने से पहले मोदी ने यहां कहा कि वह आपसी हितों के क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर अपने मित्र और रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ बातचीत के लिए उत्सुक हैं और दोनों देशों की इच्छा आपसी संबंधों को और सशक्त बनाने की है।

वार्ता में द्विपक्षीय व्यापार और निवेश तथा रक्षा, ऊर्जा, इंफ्रास्ट्रक्चर और अन्य विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग पर फोकस किया जा सकता है। वार्ता के दौरान जम्मू एवं कश्मीर के मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच उपजे तनाव पर भी चर्चा हो सकती है। रूस ने मध्यस्थता करने के पाकिस्तान के आग्रह को पहले ही यह कहते हुए खारिज कर दिया है कि यह भारत और पाकिस्तान का द्विपक्षीय मुद्दा है।

मोदी और पुतिन भारत तथा पांच देशों के एक समूह यूरेशियन इकोनॉमिक यूनियन (ईएईयू) के बीच एक फ्री ट्रेड जोन स्थापित करने के प्रस्ताव पर भी चर्चा कर सकते हैं। इस समूह में रूस, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, अर्मेनिया और बेलारूस हैं। सदस्य देशों की अर्थव्यवस्था के स्थाई विकास के लिए 2015 में इसका गठन किया गया था। दोनों नेताओं की वार्ता में भारत तथा यूरेशियाई क्षेत्र के बीच आर्थिक संबंध को प्रोत्साहन देने वाले प्रस्ताव पर चर्चा की जा सकती है।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com