देश

शेहला राशिद के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज

डेस्क: जेएनयू की पूर्व छात्र नेता और सोशल एक्टिविस्ट शेहला राशिद की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है। सेना के खिलाफ कथित झूठी खबर फैलाने के लिए आरोप शुक्रवार को उनपर देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ‘उनके खिलाफ कश्मीर घाटी में कथित रूप से सैन्य कार्रवाई की गलत सूचना ट्वीट करने केग लिए आईपीसी 124-ए(देशद्रोह), 153-ए(दुश्मनी को बढ़ावा देना), 504(जानबूझकर शांति भंग करने के इरादे से अपमान करने) और 505(उपद्रव करवाने के लिए बयान देने) के तहत मामला दर्ज कराया गया है।’

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कहा कि 3 सितंबर को एफआईआर दर्ज की गई है। शेहला की गिरफ्तारी की मांग करने वाले सुप्रीम कोर्ट के वकील आलोक श्रीवास्तव की शिकायत पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है।’

बता दें कि शेहला ने लगातार करीब 10 ट्वीट कर दावा किया था कि सेना घाटी में अंधाधुंध तरीके से लोगों को उठा रही है, घरों में छापे मार रही है और लोगों को प्रताड़ित कर रही है। उन्होंने दावा किया था कि घाटी में सत्तारूढ़ बीजेपी के अजेंडे को पूरा करने के लिए मानवाधिकारों का हनन किया जा रहा है। इन आरोपों पर लोगों ने काफी ती’खी प्रतिक्रिया दी थी। रशीद ने हालांकि कहा था कि जब भारतीय सेना जांच गठित करेगी तो वह सबूत देने के लिए तैयार हैं।

हालांकि भारतीय सेना ने उनके दावों  को खारिज करते हुए इसे बेबुनियाद और असत्यापित बताया था। सेना की ओर से उनके दावों को खारिज करने के बाद, कई लोगों ने रशीद पर कश्मीर में शांति भंग करने के लिए फर्जी खबर फैलाने का आरोप लगाया।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com