Breaking News देश बिहार राजनीती

बड़ा सवाल: क्या ‘गोडसे पुत्र’ को उकसाने वाले केन्द्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और गिरिराज सिंह गिरफ्तार किए जाएंगे?

डेस्क: : गुरुवार को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) के विरोध में गुरुवार को दिल्ली की जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी से राजघाट तक मार्च के दौरान एक सख्स ने अचानक फायरिंग कर दिया। जामिया इलाके के पास चली गोली में एक छात्र घायल हो गया। हमलावर नाबालिग बताया जा रहा है। वहीं, घायल छात्र की पहचान शादाब के तौर पर हुई है। वह जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी में मास कम्युनिकेशन का छात्र है।

Image

अब इस घटना पर राजनीति भी तेज हो गई है। कांग्रेस, आम आदमी पार्टी समेत कई विपक्षी पार्टियों ने इसके लिए केंद्र की मोदी सरकार और बीजेपी को जिम्म्मेदार ठहराया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा कि जब बीजेपी सरकार के मंत्री और नेता लोगों को गोली मारने के लिए उकसाएंगे, भड़काऊ भाषण देंगे तब ये सब होना मुमकिन है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जवाब देना चाहिए कि वो कैसी दिल्ली बनाना चाहते हैं. वे हिंसा के साथ खड़े हैं या अहिंसा के साथ? वे विकास के साथ खड़े हैं या अराजकता के साथ?

वहीं मधेपुरा के पूर्व सांसद और जाप सुप्रीमों पप्पू यादव ने केंद्रीय मंत्रियों पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है, ‘इस आतंकी गोडसे पुत्र को उकसाने के लिए क्या वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर और केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह गिरफ्तार किए जाएंगे? इसका संरक्षक कौन हैं? PM मोदी। गृह मंत्री अमित शाह. CM ढोंगी या मोहन भागवत। क्या इसके संरक्षकों और सहयोगियों पर आतंकवाद विरोधी एक्ट UAPA के तहत करवाई होगी?’

इधर इस घटना पर गृहमंत्री अमित शाह ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है, ‘आज दिल्ली में जो गोली चलाने की घटना हुयी है उसपर मैंने दिल्ली पुलिस कमिश्नर से बात की है और उन्हें कठोर से कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। केंद्र सरकार इस तरह की किसी भी घटना को बर्दाश्त नहीं करेगी, इसपर गंभीरता से कार्यवाही की जाएगी और दोषी को बख्शा नहीं जायेगा।’

बता दें कि जामिया में गोली चलाने वाला युवक ग्रेटर नोएडा के जेवर का रहने वाला है, 12वीं का छात्र बताया जा रहा है।