देश बिज़नेस बिहार राज्य

पॉजिटिव न्यूज़: अब दरभंगा में साईकिल से नहीं, बल्कि बाइक और कार से डाक बांटेंगे डाकिए

डेस्क: अभी तक डाक या फिर पार्सल बांटने के लिए खाकी वर्दीधारी डाकिए साइकिलों से लोगों के घरों तक आते हैं, लेकिन जल्द ही वे साइकिल से नहीं, बल्कि चमचमाती कारों व मोटरसाइकिलों से आपके घरों तक अपनी पहुंच बनाएंगे और ये सब संभव होगा नोडल पार्सल डिलीवरी व्यवस्था के जरिए। दरभंगा के प्रधान डाकघर में आज नोडल डिलीवरी सेंटर का उदघाटन श्री अशोक कुमार, उत्तरी प्रक्षेत्र के द्वारा किया गया। इस सेवा की शुरुआत करते हुए उन्होंने बताया कि डाक ऑफिस में अलग से पार्सल व स्पीड पोस्ट कलेक्शन सेंटर बनाया जाएगा जहां सुबह-सुबह शहर भर की पार्सल की छंटनी की जाएंगी और संबंधित बीट के पोस्टमैन को दिया जाएगा। शहर का छेत्र बड़ा हो रहा है। डाकियों का इन क्षेत्रों में साइकिल से पहुंच बना पाना मुश्किल काम है, इसलिए मोटरसाइकिल की सुविधा मिलने से डाकियों को सहूलियत होगी। -इसके तहत कैश ऑन डिलीवरी के अलावा बड़े एवं भारी पार्सल भी वितरित होंगे। इस व्यवस्था से पार्सल गुम होने, खराब होने एवं चोरी चले जाने की शिकायतें भी बंद हो जाएंगी।

उसी दिन मिलेगा पार्सल पार्सल को उसी दिन वितरित करने के लिए लोगों को 9 से 11 बजे के बीच विभाग के साथ पंजीकरण करना होगा। सर्विस निर्धारित अवधि के भीतर डिलीवरी के पूरा होने के मामले में मनी बैक गारंटी के साथ भी आएगी। मैकेनाइज्ड डिलीवरी पार्सल सीधे नोडल बिंदु से संबंधित डाक पते पर भेज दिए जाने के बजाय संबंधित पते पर वितरित किए जाएंगे, जिससे आसानी हो जाएगी।

ये होगा फायदा

– लोग अपने चहेतों को मनचाहा गिफ्ट भेज सकेंगे।
– सरकारी सेवा होने से भरोसा ज्यादा होगा।
– तीन से चार दिनों का इंतजार खत्म हो जाएगा।
– डाकियों को भी पार्सल बांटने में आसानी हो जाएगी।

डाक अधीक्षक महोदय ने बताया कि शुरुआत में तीन डाकियों के साथ इस सेवा की शुरुआत की जा रही है।अभी पार्सल का डिलीवरी डाकिया मोटरसाइकिल से करेंगे किंतु पार्सल ज्यादा होने पे वो कार से इसका डिलीवरी करेंगे।नोडल डिलीवरी सेंटर के लिए नए भवन बनने का कार्य जल्द ही शुरू होगा। उन्होंने बताया डाक विभाग नए नए आधुनिक सेवाओं के जरिए लोगों को जोड़ने में नित्य प्रयत्नशील है और आगे भी रहेगा।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com