उत्तरप्रदेश देश राज्य

अभी-अभी: कोर्ट ने दिखाई सख्ती, समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान सपरिवार भेजे गए जेल

डेस्क: उत्‍तर प्रदेश के रामपुर से समाजवादी पार्टी(SP) के सांसद आजम खान के साथ उनकी पत्नी तंजीन फातिमा और बेटे अब्‍दुल्‍ला आजम को 2 मार्च तक के लिए जेल भेज दिया गया है। बुधवार को रामपुर की एक विशेष अदालत में आजम खान अपने बेटे अब्दुल्ला के साथ जन्म के दो प्रमाणपत्र बनवाने समेत अन्य मामलों मेंआत्मसमर्पण कर दिया। जिसके बाद तीनों को दो मार्च तक के लिए न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया है। इस बीच चर्चा है कि आजम खान को रामपुर जेल से बरेली की जेल में शिफ्ट किया जा सकता है।

पिछले काफी समय से कोर्ट के बुलाने पर भी आजम खान हाजिर नहीं हो रहे थे। गैर हाजिरी के चलते कई बार कोर्ट ने आजम खान, बेटे अब्दुल्लाह आजम और पत्नी तंजीम फातमा के खिलाफ जमानती और गैर जमानती वारंट जारी किया था। रामपुर एडीजे कोर्ट के इस आदेश के खिलाफ आजम खान हाई कोर्ट का रुख कर सकते है। अगर आजम खान और उनके परिवार को हाई कोर्ट से भी राहत नहीं मिली तो उन्हें 2 मार्च तक न्यायिक हिरासत में रहना पड़ेगा।

वर्ष 2017 में सूबे में बीजेपी के नेतृत्‍व वाली योगी आदित्‍यनाथ सरकार बनने के बाद से आजम खान और उनके परिवार पर काफी मुकदमे दर्ज किए गए थे।सांसद आजम खान के खिलाफ अब तक करीब 80 मुकदमे दर्ज हो चुके हैं। दो मामलों में बुधवार भी उनके खिलाफ धारा-82 के तहत कुर्की नोटिस अदालत से जारी हुए थे। इनमें एक मामला पड़ोसी को धमकाने और दूसरा आचार संहिता उल्लंघन का था।

बता दें कि बीजेपी नेता आकाश सक्सेना ने जनवरी 2019 में अब्दुल्ला पर धोखाधड़ी से दो-दो जन्म प्रमाण पत्र बनवाने, इसके लिए आजम खान और उनकी पत्नी ने शपथपत्र देकर गलत जानकारी देने का आरोप लगाते हुए एफआईआर लिखाई थी। पुलिस ने अप्रैल 2019 में चार्जशीट दाखिल कर दी थी। तभी से अदालत में मुकदमा विचाराधीन है।