Breaking News बिहार राजनीती राज्य

कन्हैया कुमार की रैली में जुटी भारी भीड़, महात्मा गांधी के प्रपौत्र ने कहा-हम आजादी की दूसरी लड़ाई लड़ रहे हैं

डेस्क: राजधानी पटना में गुरुवार को JNU छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और लेफ्ट नेता की संविधान बचाओ नागरिकता बचाओ महारैली की। इस महारैली में सामाजिक और राजनीतिक जगत की हस्तियों के अलावा बॉलीवुड के कई कलाकार भी शामिल हुए। कन्हैया की रैली के लिए लोगों की भीड़ सुबह से ही गांधी मैदान में जुटने लगी थी। रैली की सफलता के लिए कन्हैया ने पूरे बिहार में जन गण मन यात्रा की थी। कन्हैया ने जन गण मन यात्रा की शुरुआत 30 जनवरी को चंपारण से की थी। इस रैली से राजद ने दूरी बनाई।

हारैली’ को संबोधित करते हुए कन्हैया कुमार ने ‘जन गण यात्रा’ के बारे में मौजूद लोगों को बताया। कन्हैया कुमार ने कहा कि उनकी ‘जन गण मन यात्रा’ किसी को नेता बनाने के लिये नहीं है। यह जनता और देश के गणतंत्र को बचाने के लिये है। उन्होंने आगे कहा कि अब देश को तय करना होगा कि वह महात्मा गांधी के साथ चलेगा या वह गोडसे के साथ है। कन्हैया ने एलान किया कि हम धर्म की राजनीति नहीं चलने देंगे।

वहीं, दिल्ली हिंसा पर कन्हैया कुमार ने कहा कि वहां राजनीतिक दल आग लगा रहे हैं। इसके पहले छोटे बच्चे से मंच से नारा लगवाया गया। इसके साथ ही लोगों ने राष्ट्रगान भी गाया। जबकि, दिल्ली हिंसा के शिकार लोगों की आत्मा की शांति के लिये दो मिनट का मौन भी रखा गया।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के प्रपौत्र तुषार गांधी ने अपने संबोधन में कहा कि यह लोग हमें बांटकर सत्ता चाहते हैं।हम आजादी की दूसरी जंग लड़ रहे हैं। एक दिन की लड़ाई में हम जंग नहीं जीत सकते हैं। देश के लिए लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी। आज हम प्रदर्शन करते हैं, धरना देते हैं तो घर लौटने का यकीन नहीं होता है। आज कोई मरता है तो पूछते हैं कि कौन मरा है? हिन्दू या मुसलमान? कहां गई हमारी इंसानियत? बापू के अहिंसा के देश में गोली मारने का आदेश दे दिया गया. बापू को भी सीने में गोली मारी गयी थी।

 

बता दें कि कन्हैया की इस महारैली से एक तरफ राजद ने जहां दूरी बना रखी है, वहीं हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतनराम मांझी महारैली में शामिल होंगे। सबसे खास बात है कि कन्हैया की इस महारैली में सामाजिक-राजनीतिक जगत की हस्तियों के अलावा बॉलीवुड के कई कलाकार भी शामिल हो रहे हैं।