देश राजनीती राज्य हरियाणा

दिल्ली हिंसा पर बीजेपी के मंत्री का शर्मनाक बयान, कहा- दं’गे तो होते रहते हैं, यह जिंदगी का हिस्सा हैं !

डेस्क: देश की राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन एक्ट(CAA ) के नाम पर हुई हिंसा पर देश में राजनीति अपने चरम पर है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अगुवाई में गुरुवार को एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। सोनिया गांधी ने भी कहा कि हमने राष्ट्रपति से अपील की है कि कानून की रक्षा की जिम्मेदारी आपकी है, ऐसे में आप केंद्र सरकार को राजधर्म याद दिलाएं।

इस बैठक के बाद पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा और दिल्ली हिंसा को राष्ट्रीय शर्म बताया और केंद्र सरकार से राजधर्म का पालन करने की अपील की। बता दें कि कांग्रेस की ओर से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलने वाले प्रतिनिधिमंडल में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अलावा आनंद शर्मा, मल्लिकार्जुन खड़गे, पी. चिदंबरम शामिल रहे। इससे पहले बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सोनिया गांधी ने दिल्ली हिंसा के लिए सीधे तौर पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को जिम्मेदार ठहराया था।

दूसरी तरफ कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर जैसे नेताओं के बयान बीजेपी का अभी पीछा भी नहीं छोड़ पाई है कि पार्टी के एक और बड़े नेता ने विवादित बयान दे दिया है। जिसको लेकर भाजपा की किरकिरी होनी तय है। दिल्ली में हो रही हिंसा पर हरियाणा से भाजपा के दिग्गज मंत्री रणजीत चौटाला ने हरियाणा विधानसभा के बाहर पत्रकारों से बात करते हुए कहा है कि दं’गे तो होते रहे हैं, पहले भी होते रहे हैं। जब इंदिरा गांधी की हत्या हुई थी, तब भी पूरी दिल्ली जलती रही, ये तो जिंदगी का हिस्सा है।

गौरतलब है कि रणजीत सिंह हरियाणा सरकार में बिजली मंत्री हैं। वे निर्दलीय चुनाव लड़कर विधानसभा पहुंचे थे। उन्होंने ही सबसे पहले भाजपा को समर्थन देने का ऐलान किया था। वे हरियाणा के पूर्व सीएम चौधरी देवीलाल के पुत्र हैं और ओमप्रकाश चौटाला के छोटे भाई हैं।

बता दें कि दिल्ली में सीएए के विरोध और समर्थन में पिछले चार दिन से जबरदस्त हिंसा हो रही है। इसमें मरने वालों की संख्या बढ़कर 32 हो गई है। वहीं घायलों की संख्या 250 से ज्यादा हो गई है।