Breaking News देश नई दिल्ली बिहार

बड़ी खबर: दिल्ली हिंसा में बिहार को बड़ा नुकसान, खोये अपने कई लाल !

डेस्क: देश की राजधानी दिल्ली में तीन दिनों तक चली हिंसा में मरने वालों का संख्या अबतक 38 तक पहुंच गया है। घायलों की संख्या लगभग 300 पार हो गई है। इस हिंसा ने बिहार के भी कई लाल की जान ले ली है।

गुरुवार को दिल्ली में 11 घायलों की मौत हो गई जिसमें बिहार का 15 साल का एक छात्र भी शामिल है। बताया जा रहा है कि उपद्रव के दौरान गढ़पुरा प्रखंड क्षेत्र के सोनमा वार्ड 5 निवासी नितिन कुमार भी घायल हो गया था। गुरुवार तड़के गुरु तेग बहादुर अस्पताल में उसकी मौत हो गई। नितिन की मौत की खबर से उसके पैतृक गांव में मातम छा गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, नितिन के पिता सोगारथ पासवान उत्तर-पूर्वी दिल्ली के गोकुलपुरी में पिछले 6 साल से परिवार के साथ रह रहे थे और यहीं मजदूरी करके घर का पेट पाल रहे थे। बुधवार शाम तीन बजे उनका छोटा बेटा नितिन घर के लिए कुछ सामान की खरीदारी के लिए निकला था। घर से कुछ दूर जाने पर ही वह दंगाइयों की जद में आ गया और उसके सिर पर किसी ने गो’ली मार दी। गोली लगने से घायल नितिन को पुलिसकर्मियों ने नजदीक ही स्थित गुरु तेग बहादुर अस्पताल में उसे भर्ती कराया।

नितिन गोकुलपुरी में ही सरकारी स्कूल की आठवीं क्लास में पढ़ता था। अपने भाई-बहन में सबसे छोटा था। नितिन मूल रूप से बिहार के बेगूसराय का रहने वाला था। मौत की खबर से उसके पैतृक गांव में मातम छा गया।

इस हिंसा में भोजपुर के रहने वाले एक युवक की भी जान चली गई है। मृत युवक जिले के चांदी थाना क्षेत्र के जोकटा सलेमपुर गांव निवासी स्वर्गीय सुबेदार सिंह का पुत्र दीपक कुमार बताया जा रहा है। दीपक दिल्ली के शाहदरा थाना क्षेत्र के झिलमिल रोलिंग मिल में मजदूरी का काम करता था। उसकी मौत उस वक्त हुई जब वो दिल्ली में अपने दोस्त के साथ सब्जी लेने के लिए घर से बाहर निकला था। मृतक दीपक के तीन छोटे-छोटे मासूम बच्चे हैं जो अभी तक अपने पिता के लौट कर घर आने के इंतजार में टकटकी लगाएं बैठे हुए हैं।

इसके अलावा बिहार के एक मजदूर की भी दिल्ली हिंसा में मौत हो गई। बिहार के दरभंगा निवासी मुबारक हुसैन (28) उत्तर पूर्वी दिल्ली के बाबरपुर इलाके में रहते थे। उन्हें विजय पार्क में उपद्रव के दौरान सीने में गोली लगी जिससे उनकी मौत हो गई। मुबारक दिल्ली में मजदूर के रूप में काम करते थे।

बता दें कि वीडियो के आधार पर अब दिल्ली पुलिस ने एक्शन लेना शुरू कर दिया है। वायरल विडियो में उपद्रवियों के साथ दिखने वाले आम आदमी पार्टी के पार्षद ताहिर हुसैन पर गुरुवार शाम में शिकंजा कस गया। पहले उनकी फैक्ट्री सील की गई, कुछ घंटों में हत्या का केस दर्ज हुआ और बाद में पार्टी ने भी ताहिर हुसैन को जांच पूरी होने तक प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com