देश नई दिल्ली राज्य

देशद्रोह केस: हम बीजेपी सरकार के झूठ और उनके फर्जी राष्ट्रवाद की पोल खोलेंगे-उमर खालिद

डेस्क: दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में लगे कथित देश विरोधी नारों के मामले में स्पेशल सेल को मुकदमा चलाए जाने की मंजूरी दिल्ली की केजरीवाल सरकार के तरफ से दे दी गई है। जिसके बाद अब जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार , उमर खालिद समेत 10 लोगों पर राजद्रोह का केस चलाये जाने का रास्ता साफ हो गया है।

दिल्ली सरकार के इस फैसले पर उमर ख़ालिद ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।  उमर ने लिखा है, ‘मेरे और अनिर्बान की तरफ से बयानः दिल्ली सरकार की तरफ से देशद्रोह केस में हमारे खिलाफ मुकदमा चलाने की मंजूरी से हमे कोई दिक्कत नहीं होगी। हमें भरोसा है कि हम निर्दोष हैं, हमें न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है और हम खुद इस मामले की कोर्ट में सुनवाई की मांग कर रहे थे।’

उन्होंने कहा, ‘कोर्ट में सुनवाई से साबित हो जाएगा कि सत्तारूढ़ सरकार की तरफ से कराया जा रहा मीडिया ट्रायल झूठा और राजनीतिक रूप से प्रेरित है। हम काफी समय से इन झूठे आरोपों के साए में जी रहे हैं। आखिरकार, सब दूध का दूध और पानी का पानी होगा। हम कोर्ट में अपना बचाव करेंगे, हम सत्तारूढ़ सरकार के झूठ और उनके राष्ट्रवादी होने के झूठे दावे की पोल खोलेंगे।’

वहीं इस मामले पर दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने मौजूदा घटनाक्रम का स्वागत करते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार ने मौजूदा राजनीतिक हालात को ध्यान में रखकर यह फैसला लिया है। हम इसकी मांग करते आ रहे थे कि केजरीवाल सरकार इसकी मंजूरी दे और कानून को अपना काम करने दे। आपको बता दें कि बीजेपी लगातार यह आरोप लगाती आ रही है कि आम आदमी पार्टी की सरकार कन्हैया कुमार और अन्य लोगों को अभियोजन की स्वीकृति ना देकर मामले में कार्यवाही को रोक रही है।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com