देश मध्यप्रदेश राजनीती राज्य

मध्यप्रदेश के कमलनाथ सरकार पर ‘संकट’, बीजेपी का ‘डर्टी पॉलटिक्स- ‘8 ‘कांग्रेसी’ MLA को बनाया बंधक !

डेस्क: मध्यप्रदेश में एक बार फिर राजनीतिक उठापटक शुरू हो गई है। आधी रात को कांग्रेस ने भाजपा पर कांग्रेस, बसपा और निर्दलीय 8 MLA  को गुरुग्राम के एक होटल में बंधक बनाने का आरोप लगाया। इसके साथ ही कांग्रेस ने आरोप लगाया कि भाजपा राज्य में कमलनाथ सरकार को गिराने के लिए विधायकों की खरीद-फरोख्त करना चाहती थी। शुरुआती जानकारी के मुताबिक, चार विधायक वे हैं जो कमलनाथ सरकार को बाहर से समर्थन दे रहे हैं।

सरकार पर संकट के बादल मंडराते देख मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंत्री जीतू पटवारी और जयवर्धन को दिल्ली के लिए रवाना किया गया। बाद में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी पहुंचे। लेकिन रात भर चले ड्रामें के बाद भी अपेक्षित सफलता नहीं मिली। केवल बीएसपी की निलंबित विधायक रमाबाई को ही उनके साथ होटल से बाहर निकलते देखा गया।

बता दें कि यह सारा मामला मंगलवार सुबह से ही चल रहा है। दरअसल, दिग्विजय ने मंगलवार सुबह ट्वीट किया था कि बीजेपी के पूर्व मंत्री भूपेद्र सिंह ने रामबाई को चार्टर्ड प्लेन से दिल्ली ले गए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि भगवा पार्टी, कांग्रेस-एसपी-बीएसपी के विधायकों को दिल्ली ले जाने की कोशिश कर रही है। रामबाई के पति गोविंद सिंह ने हालांकि यह कहा कि वह बेटी के इलाज के लिए दिल्ली गई हैं और कमलनाथ सरकार के साथ ही हैं। जबकि बीजेपी ने साफ शब्दों में कहा था कि उसका इससे कोई लेना देना नहीं है और उन्होंने इसे कांग्रेस की आंतरिक कलह करार दिया था।

बता दें वर्तमान में राज्य विधानसभा में 228 सदस्य हैं. दो विधायकों की मृत्यु के बाद दो सीटें खाली है। फिलहाल कांग्रेस के पास 114, बीजेपी के 107 विधायक है। शेष नौ सीटों में से दो बसपा के पास हैं जबकि सपा का एक विधायक है। वहीं विधानसभा में चार निर्दलीय विधायक हैं।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com