बिहार राज्य शिक्षा

अपने आंतरिक ऊर्जा पर आलस को हावी कभी न होने दें: डॉ. मेहता

डेस्क: दरभंगा। ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के गांधी सदन के सभागार में दूरस्थ शिक्षा निदेशालय के शिक्षक एवं शिक्षकेतर के बीच नवनियुक्त निदेशक डॉ. अशोक कुमार मेहता ने आज परिचयात्मक संवाद किया। कर्मियों से वार्ता के दौरान उन्होंने कर्मियों से कहा कि अपने आंतरिक ऊर्जा पर आलस को हावी कभी न होने दें, एक कर्मी को समय की सार्थकता को सही रूप से उपयोग करना चाहिए क्योंकि शब्द और समय कभी वापस नहीं आता है।

उन्होंने कर्मियों से कहा कि निदेशालय में बिहार प्रदेश के साथ साथ पूरे भारत के विभिन्न कोनो से छात्र अपना नामांकन कराने यहां आते अतः हमारा यह दायित्व है कि उनके कार्यों का निष्पादन त्वरित गति में होना चाहिए जिससे उन्हें असुविधा ना हो यह उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि हमारा अपना नैतिक कार्य। क्योंकि इस संस्थान में बहुत सारी ऐसी महिलाएं भी शिक्षा ग्रहण कर रही है जो अपने परिवार के साथ साथ यहां की छात्रा भी है और एक घरेलू महिला को परिवारिक रुप से कई कार्य होते है अतः उन्होंने कर्मियों से अनुरोध किया कि छात्र एवं छात्राओं को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए।

निदेशक ने कहा कि बिहार सरकार द्वारा पर्यावरण के संरक्षण के लिए जल, जीवन हरियाली अभियान से जुड़े साथ ही संस्थान को धूम्र-पान से दूर रखें एवं निदेशालय को स्वच्छ रखने में सहयोग करें। उन्होंने निदेशालय के परीक्षा विभाग को यह निर्देश दिया कि दिसंबर सत्र 2019 के सत्रांत परीक्षा का परीक्षा फल 25 मार्च तक नेट पर आ जानी चाहिए साथ ही जनवरी 2020 में नामांकित छात्रों का डेटा भी 10 मार्च तक यूजीसी के साइट पर अपलोड कर दिया जाय।

संवाद के दौरान कर्मियों ने भी निदेशक के समक्ष अपनी-अपनी समस्याओं को रखा । निदेशक ने सभी कर्मियों को कहा कि कंप्यूटर का अनुभव अत्यंत महत्वपूर्ण है अतः जो इससे अनभिज्ञ है वो जल्द-से-जल्द इसमें दक्ष हो जाये। निदेशालय के कर्मियों को प्रतिदिन अपना दैनिक कार्य भी तैयार करने का निर्देश निदेशक द्वारा दिया गया है। संवाद के अंत मे शिक्षा शास्त्र विभागाध्यक्ष प्रो. विनय कुमार चौधरी ने कहां की यह निदेशालय तथा हम लोगों के लिए हर्ष की बात है कि इस प्रकार कर्मियों से अब तक कोई भी निदेशक संवाद नहीं किया था यह पहला कदम डॉ. मेहता के द्वारा उठाया गया है। इससे यह उम्मीद जगती है कि निदेशालय निश्चित ही दिन दूनी और रात चौगुनी तरक्की करेगा जिससे इसका फायदा छात्र छात्राओं के साथ साथ यहाँ के कर्मियों को भी मिलेगा। बैठक में उपनिदेशक डॉ. शम्भू प्रसाद तथा सहायक निदेशक डॉ. अखिलेश कुमार मिश्र के साथ सभी कर्मी उपस्थित थे।

राकेश कुमार की रिपोर्ट

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com