बिहार राज्य

कोरोना वायरस: बिहार सरकार अलर्ट, 31 मार्च तक बंद रहेंगे सभी स्कूल, कॉलेज, सिनेमाहॉल और चिड़ियाघर

डेस्क: एक अणे मार्ग स्थित सीएम आवास पर हाईलेवल मीटिंग में बड़ा फैसला लिया गया है। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए बिहार में नीतीश कुमार की सरकार ने 31 मार्च तक सभी स्कूल-कॉलेजों को बंद करने का फैसला लिया है। इसके साथ ही राज्य में होने वाली सभी परीक्षाएं भी कैंसिल कर दी गई हैं। बिहार दिवस के कार्यक्रम को रद्द किया गया है। सभी स्पोर्ट्स और कल्चरल इवेंट्स रद्द कर दिए गए हैं। इसके अलावा सरकार ने कहा है कि सभी पार्क और जू भी बंद रहेंगे।

पीएमसीएच, एसकेएमसीएच, एनएमसीएच समेत बिहार के सभी सरकारी अस्पतालों में कोरोना के संदिग्ध मरीजों की जांच की व्यवस्था की गई है। अस्पतालों में अलग से आइसोलेशन वॉर्ड बनाया गया है। पीएमसीएच के डॉक्टरों की छुट्टी रद्द कर दी गई है। बिहार में अभी तक कोरोनावायरस से पीड़ित एक भी मरीज नहीं मिला है। शुक्रवार तक 142 मरीज ऑब्जर्वेशन में थे जिनमें से 73 को डिस्चार्ज कर दिया गया है।

Image result for coronavirus

इस उच्च स्तरीय मीटिंग में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ( के साथ स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे, शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन वर्मा, मुख्य सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के सलाहकार अंजनी कुमार सिंह और गृह सचिव आमिर सुबहानी के साथ कई वरीय अधिकारी मौजूद रहे।

बता दें कि बिहार से पहले उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, हरियाणा और दिल्ली सरकार ने स्कूल-कॉलेज की बंदी का ऐलान किया था। इसके बाद सेमिनार, बैठकों पर भी रोक लगा दी गई है। दिल्ली सरकार ने आईपीएल मैचों पर भी बैन लगा दिया है। आईआईटी और डीयू के बाद जेएनयू और जामिया ने भी 31 मार्च तक क्लासेस बंद करने का ऐलान किया है। भारत में कोरोना वायरस के अब तक कुल 75 मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। कर्नाटक के कलबुर्गी में गुरुवार को इस जानलेवा वायरस से मौ’त का पहला मामला भी सामने आया है।