नई दिल्ली राज्य

अंकित शर्मा पोस्टमॉ’र्टम रिपोर्ट में हुआ बड़ा खुलासा, दंगा’इयों ने ऐसे की थी ह’त्या

डेस्क: देश की राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर हुई हिं’सा में आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा की दं’गाइयों ने ह’त्या कर दी थी। इसको लेकर एक बड़ा खुलासा हुआ है। इंटेलिजेंस ब्यूरो में तैनात अंकित शर्मा की पोस्ट’मॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक उनके शरीर पर चोट के कुल 51 निशान थे। इनमें 12 चा’कू से गोदने के निशान थे जो थाई, पैर, छाती समेत शरीर के पिछले हिस्से में थे।

पोस्ट’मॉर्टम रिपोर्ट के हवाले से पुलिस सूत्रों ने बताया है कि अंकित शर्मा के शरीर पर चा’कू से वार के गहरे निशान मिले थे। रिपोर्ट के मुताबिक 6 क’ट के निशान थे जिसमें स्क्रैच के निशान थे। बाकी 33 चोट के निशान थे जिसमें रॉड और डंडे जैसे भारी ऑब्जेक्ट से अंकित के सिर और शरीर पर वा’र किया गया था। शरीर पर ज्यादातर रेड, पर्पल, ब्लू कलर के मार्क मिले हैं। इनमें ज्यादातर थाई और कंधे पर थे।

बताते चले कि दिल्ली दं’गों की जांच कर रही पुलिस ने चेहरों की पहचान के लिए आइडेंटिफिकेशन सॉफ्टवेयर का सहारा लिया है। इसमें दिल्ली के कुल 12 थाना क्षेत्रों के कुल 61 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र के करीब 20 लाख लोगों के ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड आदि के चेहरों का डेटा डाला गया है और सीसीटीवी तथा जनता की ओर से भेजे गए वीडियो के चेहरों का मिलान किया जा रहा है। अब तक 11 सौ से ज्यादा लोगों की पहचान हो चुकी है। इसमें तीन सौ से ज्यादा लोग यूपी से दं’गा करने के लिए आए थे। इससे गहरी साजिश का खुलासा होता है। खुद गृह मंत्री अमित शाह ने इस बात का खुलासा किया।

उन्होंने कहा कि एक ही समुदाय के 1100 लोगों को पकड़ने की बात गलत है। पुलिस ने कुल 2647 लोगों को हिरासत में या फिर गिरफ्तार किया है। बता दें कि गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में यह भी खुलासा किया था कि अंकित शर्मा की ह’त्या की जांच में जुटी एसआईटी को अहम सुराग हाथ लगे हैं। एसआईटी को वह वीडियो हाथ लग गया है, जिसमें अंकित शर्मा की ह’त्या के राज छुपे हैं। वह वीडियो एक आम नागरिक ने भेजा है।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com