बिहार राज्य

बड़ी खबर: RJD ने किया ‘जनता क’र्फ्यू’ के विरोध का ऐलान ! कहा-यह अघोषित आपा’तकाल

डेस्क: दुनियाभर में को’रोना संक्रमित मरीजों की संख्या 245000 के करीब हो गई है, वहीं लगभग 10000 लोगों की मौ’त हो चुकी है। अभी तक 86000 लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। सबसे ज्यादा जानें इटली में गई हैं। चीन में लगातार दूसरे दिन कोई घरेलू मामला नहीं आया। वहीं भारत में भी कोरो’ना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। अब तक 210 केस सामने आए हैं, जिसमें सबसे अधिक मरीज महाराष्ट्र के हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार की रात राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में लोगों से कोरोना वायरस महामारी को रोकने में सहयोग की अपील की। उन्होंने आगामी 22 मार्च रविवार को जनता क’र्फ्यू के तौर पर मनाने की घोषणा की। इसमें लोगों से अपील की गई कि वह सुबह 7:00 बजे से रात 9:00 बजे तक अपने घरों में रहे। आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को छोड़कर बाहर कोई भी बाहर ना निकले। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी भारत के पीेएम की इस अपील की सराहना की है। 22 मार्च को जनता क’र्फ्यू को देखते हुए दिल्ली मेट्रों ने अपनी सेवाएं बंद रखने का फैसला किया है।

लेकिन में बिहार में इसको लेकर सियासत शुरू हो गई है। मुख्य विपक्षी पार्टी राजद ने इसका विरोध करने का ऐलान किया है। दरभंगा के बहादुरपुर से राजद विधायक भोला यादव ने प्रेस कांफ्रेंस कर जनता क’र्फ्यू को अघोषित आपा’तकाल बताते हुए कहा कि कोरोना वायरस को रोकने में सरकार फेल है। इस म’हामारी से बचाव और इससे उबरने की कोई तैयारी नहीं है। इसलिए बाकी सवालो से बचने के लिए और ध्यान को भटकाने के लिए यह काम कर रही है। वहीं 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का राजद पुरजोर विरोध करता है।

Image result for bhola yadav

दूसरी तरफ जन अधिकार पार्टी(लो) के अध्यक्ष पप्पू यादव ने भी इसको लेकर तंज कसा है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है, ‘जनता क’र्फ्यू नहीं! जुबान क’र्फ्यू, कालाबाजारी क’र्फ्यू, जमाखोरी क’र्फ्यू आवश्यक है। जुबान क’र्फ्यू उनके लिए जो गोमूत्र से कोरोना ठीक करने का अफवाह फैला, गोमूत्र पार्टी कर रहे हैं। जमाखोरी, कालाबाजारी और गोमूत्र पार्टी करने वाले मोदी जी के अपने लोग हैं,उन पर क’र्फ्यू क्यों नहीं लगाते?

बता दें कि मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने चार शहरों को लॉकडाउन करने का फैसला किया है। यानी जरूरी दुकानों और सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें और दफ्तर 31 मार्च तक बंद रहेंगे। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमने मुंबई, पुणे, पिंपरी, नागपुर और एमएमआर रिजन को 31 मार्च तक लॉकडाउन करने का फैसला किया है। यहां जरूरी सामानों और सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें और दफ्तर बंद रहेंगे। महाराष्ट्र में अब तक कोरोना के 52 मामले सामने आए हैं।

Desk
Social Activist
https://khabarilaal.com