देश

बिग ब्रेकिंग: कोरोना के कारण नोटों की छपाई बंद, करंसी प्रेस 31 मार्च तक शटडाउन

डेस्क: कोरो’ना वायरस लगभग पूरे विश्व को अपने चपेट में ले चुका है। भारत में भी ज्यादातर राज्यों तक यह पहुंच चुका है। कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच लगातार यह अपील की जा रही है कि कैश के इस्तेमाल से बचना चाहिए। लोगों से ज्यादा से ज्यादा डिजिटल ट्रांजैक्शन करने के लिए कहा जा रहा है।इसी बीच नासिक करंसी नोट प्रेस ने 31 मार्च तक कामकाज बंद करने का फैसला किया है।

करंसी नोट प्रेस के यूनियन के अध्यक्ष जगदीश गोडसे ने कहा कि हमने छपाई का 99 फीसदी लक्ष्य हासिल कर लिया है। यह काम 20 मार्च तक ही पूरा किया जा चुका है। इसलिए हमने मिलकर यह फैसला किया है कि छपाई का काम अब 31 मार्च तक बंद रहेगा।

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक ने भी कैश के इस्तेमाल से बचने की सलाह दी है। एसबीआई ने कहा है कि ‘कई लोग नोटों की गिनती के समय थूक का इस्तेमाल करते हैं जिससे वायरस फैलने का खतरा काफी होता है। ऐसे में नोट के इस्तेमाल से बचने की कोशिश करें।’

उधर कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए रविवार शाम सीएम नीतीश की अध्यक्षता में हाइ लेवल मीटिंग के बाद बिहार सरकार ने 31 मार्च तक बिहार को लॉकडाउन करने का फैसला लिया है। इस लॉक डाउन में पटना सहित बिहार के तमाम जिले शामिल हैं। वैसे अनुमंडल इलाके भी शामिल होंगे, जो भीड़भाड़ वाला इलाका है।

हालांकि अनिवार्य सेवाएं जारी रहेंगी. साथ ही लॉकडाउन से दवा की दुकान, राशन की दुकान, डेयरी, पेट्रोल पंप  बैंक, पोस्ट ऑफिस, एटीएम और मीडिया कार्यालय लॉकडाउन से बाहर रहेंगे। CM नीतीश ने बिहारवासियों से अपील किया है कि ,कोरोना वायरस के इस संकट की घड़ी में सब लोग सचेत रहें।

कोरोना वायरस की महामारी से बचाव के लिए धार्मिक न्यास बोर्ड ने फैसला लिया है कि पटना के महावीर मंदिर के साथ बिहार के सभी 4500 मंदिर श्रद्धालुओ के लिए 31 मार्च तक बंद रहेंगे। यह पहला मौका होगा कि पटना प्राचीन हनुमान मंदिर को बंद किया गया है। हालांकि महावीर मंदिर के बंद होने के बावजूद वहां पूजा होती रहेगी।

वहीं 2 अप्रेल को पटना में आयोजित होने वाले रामनवमी स्वागत समारोह को कोरोना की वजह से कैंसिल कर दिया गया है। रामनवमी समारोह के अध्यक्ष नितिन नवीन ने बताया कि पटना के डाकबंगला चौराहे पर हर साल होने वाले रामनवमी का स्वागत समारोह नही होगा।उन्होंने बताया कि में इस समारोह में 24 से अधिक झांकियां भी शामिल होती थी।

कोरोना वायरस संक्रमण के 365 मामले मिल चुके हैं।जिसमें 23 स्‍वस्‍थ होकर घर जा चुके हैं।पटना का मामला जोड़ दें तो देश में अब तक 7 कोरोना संक्रमित लोगों की मौ’त हो चुकी है। अब तक महाराष्ट्र में 2, दिल्ली में 1, बिहार में 1, कर्नाटक में 1, पंजाब में 1 और गुजरात में 1 शख्स की मौ’त की पुष्टि हो चुकी है। महाराष्ट्र में को’रोना वायरस के अब तक सबसे ज्यादा 75 मरीज पाए गए हैं।