देश

लॉकडाउन में दिल्ली पुलिस की बर्ब’रता का शिकार हुए पत्रकार! पप्पू बोले- ये सिर्फ पत्रकारों, छात्रों, समाजसेवियों पर ही जुल्म ढाती है

डेस्क: भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। देशभर में अबतक इस वायरस से नौ लोगों की जान जा चुकी है। वहीं संक्रमित लोगों की संख्या 511 हो गई है। सरकारी आंकड़े के मुताबिक कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए 30 राज्यों के 548 जिलों में लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। जबकि दिल्ली समेत चार राज्यों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। रविवार को जनता कर्फ्यू के बाद सोमवार को लॉकडाउन की घोषणा की गई थी।

दिल्ली में लॉकडाउन के दौरान सोमवार को दिल्ली पुलिस द्वारा एक पत्रकार के साथ बदसलूकी और मार-पीट का मामला सामने आया है। जर्नलिस्ट नवीन कुमार ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट ट्विटर पर इसकी जानकारी दी है।

नवीन कुमार

नवीन ने लिखा है, ‘मै बुरी तरह हिला हुआ हुआ हूं और भयानक तकलीफ में।दफ्तर जाते हुए दिल्ली पुलिस के लोगों ने कार की चाबी निकाल ली, वॉलेट,फोन छीन लिया, वैन में डालकर पीटा और भद्दी भद्दी गालियां दी। वो कॉरॉना को रोकने के लिए अपनी ड्यूटी पर थे। हम एक भयावह दौर में हैं। लिख दिया है ताकि इस दौर की सनद रहे’ इसके साथ उन्होंने तीन पेज का एक पत्र भी शेयर किए हैं। जिसमें पूरे वाकये को विस्तार से बताया गया है।

इस घटना पर जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष और बिहार के मधेपुरा से पूर्व सांसद रहे पप्पू यादव ने अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दी है। और दिल्ली पुलिस के कार्यशैली को लेकर प्रधानमंत्री पर निशान साधा है।

उन्होंने नवीन के पोस्ट को रीट्वीट करते हुए लिखा है, ‘एक बेहतरीन पत्रकार पर दिल्ली पुलिस का निर्लज्ज निर्मम क्रू’र हमला! क्या ऐसे कोरोना से बचाएगी यह पुलिस! प्रधानमंत्री जी आपकी दिल्ली पुलिस पत्रकारों,छात्रों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, निर्दोषों पर खूब जुल्म ढाती है। दं’गाई,अपराधी के सामने इसकी घिग्घी बंध जाती है, शागिर्द बन जाती है।

बता दें कि कोरोना के केरल में 95, लद्दाख में 13, मध्य प्रदेश में 6, महाराष्ट्र में 97, ओडिशा में 2, पुदुचेरी में एक, पंजाब में 23, आंध्र प्रदेश में 7, बिहार में 3, छत्तीसगढ़ में एक, चंडीगढ़ में 6, दिल्ली में 29, गुजरात में 30, हरियाणा में 26, हिमाचल प्रदेश में 2, जम्मू-कश्मीर में 4, कर्नाटक में 33, राजस्थान में 32, तमिलनाडु में 12, तेलंगाना में 33, उत्तर प्रदेश में 33, उत्तराखंड में 5 और पश्चिन बंगाल में 7 केस आए हैं।