Breaking News देश

कोरोना संकट के समय अंबानी-अडानी जैसे ‘मुफ्तखोर’ उद्योगपतियों के दिल को लकवा मार गया है: पप्पू यादव

डेस्क: भारत समेत लगभग पूरा विश्व कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव से परेशान है। सरकारें इसके फैलाव को रोकने के लिए तमाम तरह के प्रयास कर रही है। देश-विदेश के उद्योगपति भी मदद के लिए आगे आ रहे हैं। लेकिन मोदी समर्थक कहा जाने वाला अंबानी-अडानी के तरफ से अभी तक मदद के लिए पहल नहीं किया गया है।

जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष और मधेपुरा के पूर्व सांसद पप्पू यादव ने देश के उद्योगपतियों के बहाने मोदी सरकार पर एक बार फिर से निशान साधा है। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है, ‘बिल गेट्स,जैक मा आदि दुनिया के अरबपति कोरोना से लड़ने के लिए अरबों दान कर रहे हैं। भारत में पीएम साहब के अरबपति उद्योगपति मित्र बालकोनी में खड़े हो थाली पीट रहे हैं। कहां हैं अडानी-अंबानी? क्या कोरोना वायरस से ग्रसित हैं,या,सरकारी मुफ्तखोर उद्योगपतियों के दिल को लकवा मार गया ह।’

बता दें कि अलीबाबा के संस्थापक जैक मा ने कोरोनो वायरस महामारी से निपटने के लिए 10 देशों को आपातकालीन चिकित्सा आपूर्ति करने का वादा किया है। जैक मा ने जिन दस देशों का नाम लिया है उसमें भारत को छोड़कर अफगानिस्तान, बांग्लादेश, कंबोडिया, लाओस, मालदीव, मंगोलिया, म्यांमार, नेपाल, पाकिस्तान और श्रीलंका शामिल है। इन देशों 1.8 मिलियन मास्क, 210,000 टेस्ट किट, 36,000 सुरक्षा के सूट, वेंटिलेटर और थर्मामीटर दिया जाएगा।

वहीं माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स के गेट्स फाउंडेशन ने दुनियाभर में कोरोना वायरस (कोविड-19) से लड़ने में मदद के लिए 10 करोड़ डॉलर देने का एलान किया है। बिल गेट्स ने यह भी कहा कि 10 करोड़ डॉलर के अलावा वाशिंगटन की मदद के लिए वे 50 लाख डॉलर देंगे।

हालांकि कुछ भारतीय उद्योगपतियों ने भी मदद का ऐलान किया है। जिसमें आनंद महिंदा और अनिल अग्रवाल जैसे लोग शामिल हैं।

भारत में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है। देशभर में अबतक इस वायरस से नौ लोगों की जान जा चुकी है। वहीं संक्रमित लोगों की संख्या 523 हो गई है।कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए 30 राज्यों के 548 जिलों में लॉकडाउन घोषित कर दिया गया है। जबकि दिल्ली समेत चार राज्यों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। रविवार को जनता कर्फ्यू के बाद सोमवार को लॉकडाउन की घोषणा की गई थी।