देश

बड़ी खबर: कोरोना से निपटने के लिए विश्व बैंक ने भारत को दिए सबसे ज्यादा 100 करोड़ डॉलर, कहीं ये बड़ी बात

डेस्क: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार को रोकने के लिए भारत सरकार और राज्य सरकारें लगातर प्रयास कर रही है। इस बीच गुरुवार को विश्व बैंक ने को भारत को कोरोना वायरस से निपटने के लिए एक अरब डॉलर की आपातकालीन वित्तीय सहायता के लिए मंजूरी दी है।

विश्व बैंक की सहायता परियोजनाओं के 1.9 अरब डॉलर के पहले सेट में 25 देशों की मदद की जाएगी और 40 से अधिक देशों में त्वरित गति से नये अभियान आगे बढ़ाये जा रहे हैं। आपातकालीन वित्तीय सहायता का सबसे बड़ा हिस्सा भारत को दिया जाएगा जो एक अरब डॉलर का होगा।

वहीं दक्षिण एशिया में विश्व बैंक ने पाकिस्तान के लिए 20 करोड़ डॉलर, अफगानिस्तान के लिए 10 करोड़ डॉलर, मालदीव के लिए 73 लाख डॉलर और श्रीलंका के लिए 12.86 करोड़ डॉलर की सहायता को मंजूरी दी है।

विश्व बैंक के कार्यकारी निदेशकों के मंडल ने दुनियाभर के विकासशील देशों के लिए आपात सहायता के पहले सेट को मंजूरी दी जिसके बाद विश्व बैंक ने कहा, ‘भारत में एक अरब डॉलर की आपातकालीन वित्तीय सहायता से बेहतर स्क्रीनिंग, संपर्कों का पता लगाने, प्रयोगशाला जांच, व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण खरीदने और नये पृथक वार्ड बनाने में मदद मिलेगी।’

बता दें कि विश्व बैंक ने वैश्विक कोरोना वायरस महामारी के प्रभाव से निपटने में देशों की मदद करने के लिए 15 महीने के लिहाज से 160 अरब डॉलर की आपा’तकालीन सहायता जारी करने की योजना को मंजूरी दी। उसी में से पहले सेट की मंजूरी गुरुवार को दी गई है।

ज्ञात हो कि भारत में पिछले दो से तीन दिनों में कोरोना वायरस के पॉजिटिव केस की संख्या में जबरदस्त उछाल आया है और ये आंकड़ा 2500 के पार चला गया है। इस महासंक’ट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को 9 बजे एक बार फिर देशवासियों को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी आज अपना एक वीडियो संदेश जारी करेंगे।