बिहार राज्य

Big Breaking: बिहार के क्वॉरेंटाइन में कोरोना संदिग्धों ने किया पथ’राव, जा’न बचाकर भागे कर्मचारी

डेस्क: भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। आज महाराष्ट्र में 47, उत्तर प्रदेश के आगरा में 25, राजस्थान में 19, गुजरात में 10, मध्यप्रदेश में छह मामले सामने आए हैं। वायरस पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या बढ़कर 3000 पर हो गई है। इनमें से 183 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। वायरस से कुल 71 लोगों की मौ’त भी हो चुकी है।

इस बीच बिहार के सिवान जिले से एक बड़ी खबर आ रही है। जानकरी के मुताबिक सीवान के क्वॉरेंटाइन सेंटर में बंद कोरोना के संदिग्धों ने प्रशासन और कर्मचारियों पथ’राव किया है। यह घटना रघुनाथपुर के राजपुर मिडिल स्कूल में बनाए क्वॉरेंटाइन सेंटर की है। जिसके बाद सभी सरकारी कर्मचारी जा’न बचाकर मौके से भाग खड़े हुए हैं।

सिवान के रघुनाथपुर थाना क्षेत्र में बने क्वॉरेंटाइन सेंटर पर कोरोना के संदिग्ध लोगों को रखा गया है। इस सेंटर में रखे गए सभी संदिग्ध आज आक्रो’शित हो गए और जमकर हंगामा करने लगे। उन्होंने वहां ड्यूटी कर रहे लोगों पर पत्थ’रबाजी की और कुर्सियां तो’ड़ दीं। उत्पा’त करने वालों ने सेंटर का फर्नीचर तोड़फोड़ करके बाहर सड़क तक पर बिखेर दिया। इससे सरकारी कर्मचारियों को चोटें लगीं। कई संदिग्ध भी सेंटर से भाग गए हैं। ज्ञात हो कि बिहार के मुंगेर जिले में भी कोरोना वायरस से निपटने वाली मेडिकल टीम पर हम’ला हो चुका है।

बता दें कि बिहार में भी कोरोना पॉजिटिव मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार के अनुसार शुक्रवार को सीवान और गया के दो और संदिग्ध की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। सीवान का 35 वर्षीय पुरुष 21 मार्च को बहरीन से लौटा था। सीवान में पॉजिटिव की संख्या 6 और राज्य में 31 हो गई है।

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने कोरोना वायरस की जांच और पुष्ट मामलों के संदर्भ में जानकारी साझा की है। कुमार के के मुताबिक, शुक्रवार तक कुल 2629 टेस्ट किए गए हैं, जिनमें कुल 31 कोरोना संक्रमित मामलों की पुष्टि हुई है। वहीं, तीन लोग इलाज के बाद ठीक हो गए हैं।इसके अलावा, 932 नमूने की जांच अभी बाकी है।