देश

पप्पू यादव ने बताया कोरोना का ‘शर्तिया इलाज’- गदही के दूध का ऐसे करना होगा इस्तेमाल !

डेस्क: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश के नाम अपने संबोधन में 5 अप्रैल को देशवासियों से 9 मिनट मांगे हैं। उन्होंने रविवार रात नौ बजे, नौ मिनट तक घर की बत्तियां बुझाकर कैंडल, दीपक या मोबाइल फ्लैशलाइट जलाने की अपील की है। पीएम मोदी के इस अपील पर लोगों की प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई है। कांग्रेस समेत विपक्षी दल के तमाम नेता खुलकर इसकी आलोचना कर रहे हैं।

कुछ नेता तो अजीबोगरीब प्रतिक्रिया दे रहे हैं। मधेपुरा के पूर्व सांसद और जाप प्रमुख पप्पू यादव लगातार इसको लेकर तंज कस रहे हैं। शनिवार को उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर बिना किसी का नाम लिए कोरोना का अजीबोगरीब इलाज बताया है। उन्होंने लिखा है, ‘करोना का रामबाण उपचार गदही का दूध पिएं 2 चम्मच 2 दिन पर 2बार। शर्तिया करोना गधे के सिर से सिंग की तरह गायब हो जायेगा।#गदही_के_2चम्मच_दूध_से_करोना_छूमंतर’

पप्पू के इस ट्वीट पर तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आनी शुरू हो गई है, एक यूजर ने लिखा है, ‘कमाल का आईडिया है सर, भक्त जरूर ट्राई करेंगे।’

 

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘1 अप्रैल और 5 अप्रैल के चक्कर में क्यों पड़े हो? 23 मई 2014 के बाद से आपका हर दिन 1 अप्रैल ही है। आप सबको वह मूर्ख ही मानते हैं समझे!

इससे पहले शुक्रवार को पप्पू ने लिखा था, ‘पीएम साहब आप फर्जी गरीब हैं। आपको नहीं पता है पूरा देश में गरीबों को आटा नहीं मिल रहा है। आपको मोमबत्ती जलाने की पड़ी है।’

बता दें कि में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। आज महाराष्ट्र में 47, उत्तर प्रदेश के आगरा में 25, राजस्थान में 19, गुजरात में 10, मध्यप्रदेश में छह मामले सामने आए हैं। वहीं, राजस्थान, गुजरात, तमिलनाडु में एक-एक और मध्यप्रदेश में तीन की मौत हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देशभर में कोरोना वायरस पॉजिटिव मामलों की कुल संख्या बढ़कर 2902 हो गई है। इनमें 2650 अस्पतालों में इलाज चल रहा है। वहीं 183 लोग स्वस्थ हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। वायरस से कुल 68 लोगों की मौ’त हुई है।