राशन कार्ड बिहार
बिहार राज्य

राशन कार्ड बिहार: कार्डधारियों के लिए जरुरी ख़बर, कहीं आपका नाम भी तो नहीं है शामिल ?

प्रदेश में अपात्र (ineligible ration card holder) लोगों का राशन कार्ड बन चुका है, जिसके कारण पात्र लाभार्थी को नया राशन कार्ड जारी नहीं किया जा रहा। अब बिहार सरकार ने अपने स्तर पर मॉनिटरिंग शुरू किया। अपात्र होने के बावजूद राशन कार्ड का लाभ ले रहे लोगों के खिलाफ बिहार सरकार सख्त हो गई है। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग (Food and Supplies Department)अपात्र लोगो के राशन कार्ड के निरस्तीकरण की कार्रवाई कर रहा है।

राशन कार्ड बिहार: 1824 अपात्र राशन कार्ड रद्द

सुपौल में अभियान चलाकर अब तक 1824 अपात्र राशन कार्ड रद्द कर दिया गया है। इसमें 1083 ऐसे परिवार भी शामिल हैं जिन्होंने विभागीय चेतावनी के बाद अपना राशन कार्ड सरेंडर किया है। 342 राशन कार्ड अब भी रद्द करने की प्रक्रिया में है। विभागीय आंकड़ों की मानें तो पिछले कई सालों से जिलेभर में हर महीने 1824 परिवार के 6640 ऐसे लोगों को राशन दिया जा रहा था जो कहीं से भी इसके योग्य नहीं है। इसमें कई ऐसे परिवार भी शामिल थे जिसके घर में एक या इससे अधिक लोगों के पास सरकारी नौकरी थी।

हालांकि ससमय कार्ड सरेंडर कर देने की वजह से वह सभी कार्रवाई के घेरे से बाहर है। विभागीय अधिकारियों की मानें तो जांच अभियान समाप्ति के बाद सभी अपात्र लाभुकों को योजना से बाहर कर दिया जाएगा। इसके बाद ऐसे लोगों को ही योजना का लाभ मिलेगा जो योजना के शर्तों पर पालन करेंगे।

त्रिवेणीगंज अनुमंडल में सबसे अधिक 1036 राशन कार्ड रद्द:

जिलेभर में रद्द हुए राशन कार्ड में सबसे अधिक त्रिवेणीगंज अनुमंडल के अपात्र लाभुक शामिल हैं। विभागीय आंकड़ों के अनुसार त्रिवेणीगंज में सबसे अधिक 1036 राशन कार्ड रद्द किया गया है। 28 राशन कार्ड की रद्द होने की प्रक्रिया में है। सुपौल अनुमंडल में 402 राशन कार्ड को रद्द किया गया तो 62 राशन कार्ड और भी रद्द किया जा सकता है। वीरपुर अनुमंडल में 156 राशन कार्ड रद्द हुआ है तो इतने ही राशन कार्ड को रद्द करने की कार्रवाई प्रक्रियाधीन है। इसी तरह निर्मली अनुमंडल में 230 राशन कार्ड रद्द किया गया है। 96 राशन कार्ड को रद्द करने की कार्रवाई की जा रही है।

यह भी पढ़ें Ration Card News: राशन कार्ड धारकों की बल्ले-बल्ले,अब फ्री मिलेंगे गैस सिलेंडर, जल्दी से कर लीजिये यह काम !

जिला आपूर्ति पदाधिकारी वसीम रजा ने बताया कि करदाता और सरकारी नौकरी वाले लोग राशन कार्ड का लाभ नहीं ले सकते हैं। इसके अलावा योजना में कई अन्य शर्तें भी निर्धारित है। ऐसे लाभुक जो योजना के योग्य नहीं है, उनका राशन कार्ड रद्द किया जाएगा।

राशन कार्ड अपात्रता की शर्तें:

1: आयकर दाता/चार पहिया वाहन धारक/ ट्रैक्टर/ हार्वेस्टर /एसी /5 किलो वाट या उससे अधिक क्षमता के जनरेटर धारक परिवार राशन कार्ड के लिए अपात्र है।

2: 5 एकड़ से अधिक के सिंचित भूमि के स्वामी।

3: ग्रामीण क्षेत्र में ₹ 2 लाख वार्षिक/शहरी क्षेत्र में ₹ 3 लाख वार्षिक से अधिक आय वाले परिवार।

4: एक से अधिक शस्त्र धारक परिवार।

5: शहरी क्षेत्र में 100 वर्ग मीटर से अधिक का आवासीय प्लाट/फ्लैट का स्वामित्व वाला परिवार।

6: शहरी क्षेत्र में 80 वर्ग मीटर से अधिक का आवासीय मकान वाला परिवार।