CRIME बिहार

बिहार में युवक को चाकू मारने के पीछे ‘नूपुर शर्मा’ एंगल, घरवालों का बड़ा दावा, पुलिस पर भी उठे सवाल

बीजेपी की निलंबित नेत्री नूपुर शर्मा के पैगंबर मोहम्मद पर कथित विवादित बयान के डेढ़ माह बीतने के बाद भी विवाद थमने का नाम नही ले रहा है। ताजा मामला सीतामढ़ी जिला के नानपुर थाना क्षेत्र के बहेड़ा जाहिदपुर के रहने वाले मनोज झा के पुत्र अंकित को कुछ लड़कों ने इसलिए चाकू मार दिया कि वह अपने मोबाइल फोन में नुपूर शर्मा का स्टेटस देख रहा था। फिलहाल अंकित झा दरभंगा के बेंता स्थित एक निजी अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहा है। वही जख्मी युवक का वीडियो शोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है और लोगो के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। 

बिहार का आईएएस अधिकारी निकला शराब कारोबारी, पुलिस ने इनकम टैक्स कमिश्नर को किया अरेस्ट

वही जख्मी युवक अंकित ने अस्पताल में मीडिया को बताया कि शनिवार को गांव से दूर नानपुर में एक पान की दुकान पर खड़ा होकर वह अपने मोबाइल फोन में नुपुर शर्मा का स्टेटस देख रहा था तो पास में खड़े तीन युवक जो सिगरेट पी रहे थे, उन्होंने टोकते हुए पूछा कि क्या तुम नुपूर शर्मा का समर्थक हो। अंकित का कहना है कि हमने जब उनको कहा कि इससे तुम लोगों को क्या लेना-देना तो उन लाेगों ने सिगरेट का धुंआ मुंह पर फेंकते हुए मारपीट करने लगे। इतने में उन लोगों ने चाकू निकाल कर 5 से 6 वार करते हुए घायल कर दिया। जिसके बाद उसके समर्थन में नानपुर गांव के कुछ लोग आए और उन्हें लेकर निकल गए।

वही घायल अंकित के पिता मनोज झा ने बताया कि उनके पुत्र पर जानलेवा हमला किया गया है। घटना बीते शनिवार के शाम पांच बजे के आस-पास की है। पान की दुकान पर हमारा लड़का मोबाइल पर नुपूर शर्मा का स्टेटस देख रहा था। उसी क्रम में नानपुर के तीन युवक हमारे लड़का से उलझकर चाकू मारकर घायल कर दिया। वही उन्होंने बताया कि पुलिस ने उनपर दबाव बनाकर अपने हिसाब से केस लिखवा लिया है। उस केस में नुपूर शर्मा प्रकरण को हटा दिया है। इस घटना के बाद हम लोग काफी डरे-सहमे हैं। कही हमलावर हमलोगों पर फिर से ना हमला कर दे। वही उन्होंने पुलिस और प्रशासन से अपनी जानमाल की सुरक्षा की गुहार लगाई हैं।