National बिहार

बिहार के पियक्कड़ों की आई शामत, सरकार अब शराबियों पर ऐसे कसेगी नकेल

बिहार में शराबबंदी कानून को लागू हुए 6 साल का समय पूरा हो चुका है। सीएम नीतीश कुमार पूरी कोशिश कर रहे कि बिहार में शराबबंदी कानून सुचारु रुप से लागू हो पाए। इस बीच नीतीश कुमार द्वारा पिछले दिनों शराबबंदी कानून में संशोधन किया गया था, जिसके अनुसार पहली बार अगर कोई व्यक्ति शराब पीता है तो वह जुर्माना देकर जेल से बाहर आ सकता है।

हालांकि कुछ लोगों ने इस संशोधन का काफी फायदा उठाने की कोशिश की। लेकिन अब सरकार ने नियम बदल दिया है। अब यानी आप पहली बार शराब पीते हुए पकड़े गए तो सिर्फ जुर्माना देकर काम चलने वाला नहीं है। अब बिहार सरकार आरोपी के घर पर उसके नाम का नेमप्लेट चिपकाएगी। जिस पर सारी जानकारी दी गई होगी कि उसे शराब पीने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया था और वह पैसा देकर रिहा हुआ है।

इसी के साथ उस पर्ची पर उस शराबी के पूरे परिवार का अता पता होगा। इसके साथ ही पूरी विस्तृत जानकारी दी गई होगी। मघ निषेध विभाग की टीम शराबी के ऊपर पूरी निगरानी रखेगी। ताकि वह दोबारा शराब ना पिए। इसके साथ ही उसके आसपास वालों को भी सारी जानकारी दी जाएगी। ताकि शराबी दोबारा शराब पीने की हिम्मत ना कर सके।