National बिहार

रातों रात चमकी आदिवासी लड़के की किस्मत, 49 रुपए खर्च करके बन गया करोड़पति

हमने हमेशा सुना है कि जब किस्मत साथ देती है तो और किसी के साथ की जरूरत नहीं होती है। ऐसा ही एक सिंगरौली गांव के रहने वाले गेस्ट टीचर के साथ हुआ है। जिसकी किस्मत रातों-रात चमक गई और वह सिर्फ ₹49 में करोड़पति बन गया है।


दरअसल, हम जिस शख्स की बात कर रहे हैं वो रामेश्वर सिंह हैं। जो कि एक गरीब और आदिवासी परिवार से तालुक रखते हैं। वह सिंगरौली जिले के बिंदुल गांव में रहते हैं। इसके अलावा वो अतिथि शिक्षक के तौर पर सरकारी स्कूल में पढ़ाते हैं। रामेश्वर पिछले ढाई साल से ऑनलाइन गेम पर एप के जरिए क्रिकेट टीम बनाकर किस्मत अजमा रहे थे। हाल ही में उन्होंने भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच हुए T-20 वार्मअप मैच से पहले 9-9 ड्रीम टीम बनाई थीं। हर टीम पर उन्होंने 49 रुपए खर्च किए थे। इसमें से उनकी बनाई एक टीम ही पहले स्थान पर रही। इस टीम से उन्होंने एक करोड़ रुपए का इनाम जीता है।

बिहार के बेटे ने किया कमाल, खोज निकाले 2 क्षुद्र ग्रह, NASA ने भी दिया इनाम

बता दें कि रामेश्वर के पिता जगजाहिर सिंह एक छोटे किसान हैं। जो खेती करके ही अपने परिवार का गुजारा करते हैं। रामेश्वर पढ़ने में शुरू से ही होशियार थे। इसके चलते उन्होंने मजदूरी करके एमएससी तक की पढ़ाई की। जब सरकारी नौकरी नहीं लगी तो वह गेस्ट टीचर के तौर पर अपने गांव के मिडिल स्कूल में पढ़ाने लगे। उनका पूरा परिवार अभी भी झोपड़ी में रहता है। रामेश्वर के तीन भाई और हैं। वह तीसरे नंबर का है। रामेश्वर के दोनों बड़े भाई कपड़े सीलकर जीवन यापन कर रहे हैं।


हम आपको बता दें रामेश्वर ने भले ही इस गेम के जरिए करोड़ों रुपए कमा लिए हैं। लेकिन उन्होंने दूसरों को यह गेम ना खेलने की सलाह दी है। क्योंकि कई बार लोग इस गेम के चक्कर में अपना सब कुछ गंवा बैठते हैं। इसलिए रामेश्वर ने लोगों को आगाह किया है कि वह ऐसे गेम में अपने ज्यादा पैसे ना फसाए।