National बिहार

सीएम नीतीश के कैबिनेट बैठक में लगी कई एजेंडो पर मुहर, किसानों को लेकर लिया गया ये फैसला

बिहार से बड़ी खबर सामने आ रही है, जहां सचिवालय में चल रही सीएम नीतीश कुमार की कैबिनेट बैठक खत्म हो चुकी है। जिसमें कुल मिलाकर 40 एजेंडे पर मुहर लगी है। सीएम नीतीश कुमार ने अपनी मीटिंग में कई बड़े फैसले लिए हैं। इसके साथ उन्होंने चार डॉक्टरों को बर्खास्त कर दिया है।

1- बिहार के 11 सदर अस्पतालों में ओटी असिस्टेंट के 44 पदों के सृजन को स्वीकृति

2- बिहार के 37 न्याय मंडलों में 37 ऑफिस इंचार्ज एवं 37 टेक्निकल असिस्टेंट सह कोऑर्डिनेटर समेत 74 स्थाई पदों के सृजन की स्वीकृति

3- योजना एवं विकास विभाग में कनीय क्षेत्रीय अन्वेषक के पूर्व से स्वीकृत 235 पदों को 235 प्रखंडों में एक-एक पद सृजित करते हुए शेष 299 प्रखंडों के लिए एक-एक पद यानि कुल 299 अतिरिक्त पदों के सृजन की स्वीकृति दी गई

4- ब्रजकिशोर नारायण सिंह राजकीय पॉलिटेक्निक गोपालगंज और सीतामढ़ी पॉलिटेक्निक संस्थान के लिए 14 अतिरिक्त टेक्निकल पदों के सृजन की स्वीकृति

5- सचिवालय एवं निदेशालय में पदस्थापित पदाधिकारियों को घरेलू सहायता भत्ता भुगतान को मंजूरी

6- बिहार विधान मंडल सदस्यों के वेतन भत्ता पेंशन नियमावली में संशोधन

7- बिहार खेल विश्वविद्यालय राजगीर के प्रशासनिक कार्यों के लिए कुल 31 पदों के सृजन को स्वीकृति

8- जन वितरण प्रणाली में 5 वर्षों के लिए रेंट बेसिस पर ऑनलाइन इलेक्ट्रॉनिक तराजू का अधिष्ठापन तथा ई-पास यंत्र के लिए 110 करोड़ 54 लाख रुपये के खर्चे को स्वीकृति

9- खान एवं भूतत्व में प्रोन्नति से भरे जाने वाले खनिज विकास पदाधिकारी के 9 पद, सहायक निदेशक के 3 पद, उपनिदेशक के 11 पद एवं अपर निदेशक के 2 पद पर बिहार लोक सेवा आयोग के माध्यम से सीधी नियुक्ति को स्वीकृति

10- बिहार के 77 अग्नि संवेदनशील थानों के लिए अग्निशामक वाहन उपलब्ध कराए जाने के लिए 46 करोड़ 20 लाख रुपये की स्वीकृति

11- मुजफ्फरपुर में इथेनॉल इकाई की स्थापना के लिए 141.31 करोड़ के पूंजी निवेश को मंजूरी

पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग के तहत कनीय अभियंता के 4 नए पदों के सृजन की स्वीकृति दी गई है। बिहार राज्य शिक्षा वित्त निगम को शिक्षा ऋण के लिए 200 करोड़ रुपये बिहार आकस्मिकता निधि से अग्रिम स्वीकृति दी गई है।