आभासी दुनिया

अपनी माता की हत्या करने वाले ‘परशुराम’, भगवान कैसे हो सकते हैं ?

डेस्क: परशुराम जयंती मनाने वाले समाज में कभी समभाव आयेगा? इस विषय पर नहीं लिखना चाहती थी, कारण – मैं जो भी लिखूंगी उसे दरकिनार कर पहले यह याद किया जाएगा कि मैं राजपूत हूं और मेरे सारे तर्क यमुना में प्रवाहित कर यह सत्यापित करने का पुरज़ोर प्रयास होगा कि मैंने परशुराम का विरोध […]